2016

renewing life

It’s high time to break tough rules, Allow the breeze to enter my room, New year is waiting on my doorsteps, Welcoming me to accept new dares, Challenging the world […]

शिकायत नहीं आत्मसम्मान पर वार करने वालो से,
कमबख्त तकलीफ तो रूह कि कैफियत से होती है|

आप कहते हैं मैं लिखा करूँ,
विचारों को चंद पन्नो पर बिखेरा करूँ,
पर ये जो चीख मुझे रोज़ सुनाई देती है,
भावनाओं को नम सा कर देती है,
दिल को एड़ी से कुचला करती है,
फिर व्यंग का रस घोलकर,
स्याही का दर्द सन्नाटों में बयाँ करती है|