2019

You are browsing the site archives for 2019.

ant-shayari-vaidus-poem-hindi

यदि आपको यह शायरी पसंद आयी है तो मुझे पूरी उम्मीद है कि आपको मेरी कविता, ‘मेरी माँ’ भी बहुत पसंद आएगी| यहाँ क्लिक करिये और सुनिया मेरी अब तक कि सबसे अच्छी कविता ‘मेरी माँ’|

‘झूठे’, a poem written for those who are madly in love but don’t get it in return. Hope you like it! 🙂

चाहत से भरी इन सर्द रातों में मैं तुझे ढूंढती हूँ,

आँखों से छलकती तेरी शरारती मुस्कान याद-कर हँसती हूँ|

किसी और के दुपट्टे में अपनी जन्नत खोजती हूँ,

तेरी ऊँगली से लिपटे धागे पलकों से गिरे मोती में पिरोती हूँ|

 

चाहत से भरी इन सर्द रातों में मैं तुझे ढूंढती हूँ… बस तुझे ढूंढती हूँ…

मेरी शादी के करीब एक महीने पहले मेरी माँ हमें छोड़के चली गयी| उस दिन एक बात समझ आ गयी कि मौत दुःख, चिंता, ख़ुशी, गुस्सा, व नफरत का अंत हो सकती है पर प्यार का अंत कभी नहीं होती|

कभी-कभी लगता है काश मेरा कन्यादान papa और mummy दोनों करते, काश वो मुझे दुल्हन बने देख पाती, काश वो उस दिन मुझे सजा पाती, काश वो मुझे उसी तरह निहारती जैसे वो हमेशा निहारती थीं और जिसपर मैं पलटकर बोलती थी कि ‘बस करो muma कितना निहारोगी| आप मुझे concious कर रहे हो| बस हो गया यार|’

मेरी हर कविता सबसे पहले muma पढ़ती थी| जब मैं स्कूल में थी तब मम्मी ने मेरी कविताओं से भेरी डायरी पकड़ी थी| मैं हमेशा उसे छुपा के रखती थी| मेरी कवितायेँ पढ़कर मम्मी को यकीन ही नहीं हुआ कि वो मैंने लिखी हैं| उन्हें लगा की मैंने किसी और की कविता अपने नाम से लिख रखी है|

मेरी माँ (Meri Ma) by Vaidehi Singh Sharmaउन्हें पता था की मुझे शायरी लिखना व पढ़ना पसंद है पर मेरे पास अपनी शायरी व कविताओं से भरी एक diary भी है उसका अंदाज़ा उन्हें नहीं था| उन्होंने पापा को बोला कि कुछ भी करो पर इसकी कविताओं की एक किताब छपवा दो| चाहे कोई न खरीदे मैं वो किताब अपने पास रखना चाहती हूँ| आज मैंने उनकी यह इच्छा पूरी की है| Amazon सेल्फ-पब्लिश के माध्यम से मैंने एक छोटी-सी कविताओं की किताब छापी है, ‘मेरी माँ’|  इसी किताब की एक कविता यहाँ आपके साथ शेयर कर रही हूँ| उम्मीद करती हूँ आप सबको पसंद आएगी|

मेरी किताब आप kindle पर बिना किसी शुल्क के पढ़ सकते हैं| इसे पढ़ने के लिए इस लिंक का इस्तिमाल करें: https://goo.gl/CT41AV|

और अब सुनिए मेरी अब तक कि सबसे अच्छी रचना, ‘मेरी माँ’| ‘मेरी माँ’ सिर्फ और सिर्फ मेरी माँ के लिए|

I love you, Mom! I miss you! 🙁

 

ध्यान दें: यदि मेरी कविता में कोई वर्तनी (स्पेलिंग) की गलती हो कृपया नज़रअंदाज़ कर दें| मेरी वर्तनी (स्पेलिंग) पब्लिश होने से पहले सही करने वाली अब इस दुनिया में नहीं हैं|


इस तरह कि और कविताओं व कहानियों के लिए मेरे YouTube channel, Vaidus World को subscribe करना न भूलें| आप यह channel इस link के द्वारा subscribe कर सकते हैं: http://goo.gl/6jUvYC

अब आप Vaidus World कि सारी कवितायेँ व कहानियाँ blog व YouTube के अलावा Facebook, Google Plus व Twitter पर भी सुन सकते हैं| Vaidus World को इन सभी जगाहों पर follow करने के लिए नीचे दिए गए links का उपयोग करें|

Blog: https://vaidusworld.com/

Facebook: https://www.facebook.com/VaidusWorld/

Twitter: https://twitter.com/vaidus

SoundCloud: https://soundcloud.com/vaidus

Download my book, ‘Meri Ma’: https://goo.gl/CT41AV

अपने विचार comments के ज़रिये मेरे साथ बाटें| यदि आप मुझे email के द्वारा संपर्क करना चाहते हैं तो मुझे इस पते पर email करें: bolo@vaidusworld.com|

मुझे आपके विचारो व सन्देश का इंतज़ार रहेगा| 🙂

Background Music Credit: There is Romance Kevin MacLeod (incompetech.com) Licensed under Creative Commons: By Attribution 3.0 License https://creativecommons.org/licenses/by/3.0/

Love isn’t about making someone feel special or loved. It’s about caring, staying, holding, appreciating, understanding, and above all, loving and accepting all those who matter to the one you love. If you haven’t done any of this and/or not accepted everything (living or dead, materialist or non-materialistic), you have no f**king right to point out the one, whom you think you loved the most some time back in past. See within!