तलाश

यूँ ही तेरा हँस देना, फिर अचानक कुछ रूठ जाना,

मेरी खिल्ली उड़ाना, फिर पीछे पड़कर मना लेना,

हाथ थामने कि तुझसे ज़िद्द करना, एक नासमझ से हठ करना,

गुस्सा होकर मेरा सो जाना, हथेली कि गर्माहट माथे पर महसूस करना |

 

तू प्यार है किसी और का, तेरी दोस्ती है मेरी,

तेरी ज़िद्द कोई और है, पर वो दुआओं में है मेरी,

तू माँगता है किसी और को, तेरी चाह इबादतों में है मेरी,

तेरी हँसी है किसी और कि, तेरी समझदारी अब है मेरी |

 

तू पागल सा, कुछ झल्ला सा है,

दुनिया में सबसे अलबेला सा है,

सबके लिए तू समझदार सुलझा सा है,

मेरे लिए तो तू सबसे अकेला सा है |

 

तेरे कमी को पूरा करने वाली कड़ी हूँ मैं,

तुझमें बसे सागर कि बूँद हूँ मैं,

नज़रें उठा एक बार देख इधर,

शायद तेरी तलाश का अंत हूँ मैं |


मेरी सारी हिन्दी कवितायेँ पढ़ने के लिए यहाँ click करे| यदि आप भी कवितायेँ लिखते हैं और Vaidus World के ज़रिये उन्हें दुनिया के सामने लाने कि इच्छा रखते हैं, तो मुझे email (bolo@vaidusworld.com) द्वारा संपर्क करे| चुनी गयी कवितायेँ लेखक के नाम से Creative Buddies के page पर प्रकाशित की जाएँगी| Vaidus World केवल उन्हें दुनिया के सामने प्रस्तुत करने का एक ज़रिया होगा|

तो चलिए साथ लिखें| क्या पता, Vaidus World पर आपकी पहली कविता लोगों को मेरी कविताओं से भी ज़्यादा पसंद आये| इस बारे में अधिक जानकारी के लिए Creative Buddies का page देखें|

Leave a Reply