poerty

भंवर-ए-इश्क़

इस कदर आप साँसों में बस जाएंगे, रूह बनकर हमारे रग-रग में उतर जाएंगे, खुशियों का आँचल हमें उतार जाएंगे, हम थे बेखबर की हमारे दिल को इस कदर चुरा जाएंगे. कुछ अनकहे बोल नज़रों से बयां करना, वो मूड-मुड़कर आपका हमें देखना, ना कुछ कहना, ना कुछ समझना, बस नज़रों का नज़रों से यूँ…

Read more भंवर-ए-इश्क़

ek-rajkumari

Ek phool ki pankhdi si, Jhumti thi idhar udhar, Ek komal koyal si, chekti thi din bhar.Ma ki ladli, Baap ki dulari, Pali thi pholon ke palne mein, Ek pyari si rajkumari. Udna chahti thi khule akash mein, Rehti thi sada doobi apne hi khayalon mein, Dhundne chali ek din apne sapno ki rah, Vahan…

Read more Ek Rajkumari